Saturday, 13 May 2017

#MothersDay - शशी का प्यार माँ के लिए..

मैं जानती हूं तुम खुशी हुई होगी जब तुम्हें मेरे होने का पहली बार अहसास हुआ होगा।माँ मैं जानती हूं कि तुम्हें 9 महीने की तकलीफ के बाद मेरी पहली आवाज सुन कर राहत मिली होगी।मैं जानती हूं माँ जब तुमने मुझे पहली बार गोद मेंलिया होगा तब तुम्हारी आंखें नम थीं और मेरा चेहरा देखकर तुम्हें सुकून मिला होगा।मैं जानती हूं मैंने आपकी रातों की नींद खराब की होगी लेकिन तुमने मुझे प्यार से सहलाकर अपी सीने से लगाकर सुलाया होगा।मैं जानती हूँ आपकी हर एक भावना को क्योंकि आज मैं भी एक माँ हूं। 




आज मदर्स डे है।आज आपका दिन है सिर्फ आपका क्योंकि बाकी 364 दिन और रात आप सब का दिन बनाने में जुटी रहती हो।यह और कोई नहीं कर सकता है सिर्फ एक माँ ही कर सकती है।आज मैं मदर्स 'डे' नहीं बल्किअपने पास आपके ममतामयी आंचल होने का जश्न मनाना चाहती हूँ।(मां) को सेलिब्रेट करना चाहती हूं।धन्यवाद माँ।उस हर एक दिन और रात के लिए जो आपने मेरी लिए जाग कर दुआ करके गुजारी।हर बार पढ़ाई, खेल और सब चीजोंमें मुझप्रोत्साहित करने के लिए, मेरी हर समस्या और शंका को हर बार आराम से सुनकर कभी प्यार से, कभी डांट के हमेशा उन चीजों को आपने दूर किया। 

आज मदर्स डे है लेकिन सच तो यह है कि यह एक एहसास दिलाने का दिन है कि हर दिन ही मदर्स डे है क्योंकि माँ के बिना कोई डे हो नहीं सकता।जिंदगी में आपने मेरे लिए लक्ष्य निर्धारित किये, नैतिक मूल्यों की शिक्षा दी, सिद्धांतवादीबनना सिखाया और अच्छा इंसान बनने की प्रेरणा दी।आज मैं जो हूँ वो आपकी वजह से हूँ।मैं आशा करती हूं कि आपकी ही तरह मैं भी अपने बच्चे को प्रोत्साहित करूंगी और जो लक्ष्य व नैतक मूल्य आपने मुझे दिये वह मैं अपने बच्चे को दूँगी और उसे एक सफल इंसान बनने के लिए प्रेरित करूँगी।

 धन्यवाद मां, हैपी मदर्स डे मां...



1 comment: